December 1, 2022

Bhojpuriya Mati News

सच का आईना

अमित शाह अपना परिचय न बताए वह नेता कब से बने, ललन सिंह का गृह मंत्री पर करारा पलटवार

1 min read

अमित शाह अपना परिचय न बताए वह नेता कब से बने, ललन सिंह का गृह मंत्री पर करारा पलटवार

पटना: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के पूर्णिया में जनभावना रैली को संबोधित करते हुए लालू यादव और नीतीश कुमार जमकर हमला बोला. अमित शाह के बयान पर सत्ता पक्ष हमलावर है. वहीं अमित शाह ने अपने भाषण में ललन सिंह का जिक्र करते हुए हुए कहा कि वह नए-नए नेता हुए हैं. गृह मंत्री अमित शाह के इस बयान पर जदयू राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने पलटवार करते हुए कहा कि हम कब नेता बने हैं, यह बात अमित शाह को कहां मालूम है. अमित शाह अपना परिचय ना बताए कि वह नेता कब से बने हैं.

 

अमित सिंह के नए नेता वाले बयान पर ललन सिंह ने कहा कि अमित शाह को क्या मालूम कि हम कब नेता बने हैं. अमित शाह अपना परिचय ना बताए कि वह नेता कब से बने, वो राजनीति में कब आए. ललन सिंह ने कहा कि हम तो 1974 के आंदोलन से आए हैं. हमको अब अमित शाह के सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं है. हम तो जेपी आंदोलन में रहे, अमित शाह कब नेता बने. वह अपना इतिहास,भूगोल बताए कि वो कब नेता बने हम तो 1974 से ही नेता हैं. ललन सिंह ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी में अभी दो आदमी का कब्ज़ा है. उनकी स्तुति नहीं करोगे तो पार्टी से बाहर कर दिया जाएगा.

 

ललन सिंह ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि आप अपने सहयोगियों के साथ ही नहीं बल्कि पार्टी के नेताओं के साथ भी विश्वासघात करते हैं. उनके साथ भी साजिश करते हैं. आप अपना चरित्र देखिए ना, अपने गिरेबान में झांकना चाहिए. वहीं बिहार के मुख्यमंत्री की पीएम पद की दावेदारी पर जदयू प्रमुख ललन सिंह ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि नीतीश कुमार पीएम उम्मीदवार नहीं हैं. वे केवल विपक्षी दलों को एकजुट करने में सूत्रधार बनना चाहते हैं.

 

इससे पहले अमित शाह के ‘जंगल राज’ वाले बयान पर तेजस्वी यादव ने कहा कि मैंने कहा था, जब अमित शाह आएंगे तो कहेंगे की जंगल राज है.अमित शाह आप जहां दिल्ली में बैठते है वो अपराध में अव्वल नंबर पर आता है. NCRB के आकड़ों के मुताबिक दिल्ली में अपराध बिहार से अधिक है. देश की राजधानी सुरक्षित नहीं है. उन्होंने कहा कि अमित शाह आप जहां दिल्ली में बैठते हैं वह क्राइम में पहले नंबर पर आता है. आप अपने गृह विभाग का आंकड़ा निकाल लीजिए NCRB का, दिल्ली में दिल्ली में क्राइम बिहार से अधिक है. आप जहां बैठते हो, सोते हो, वो देश की राजधानी सुरक्षित नहीं है और यहां बिहार आकर आप लोगों को बेवकूफ बनाना चाहते हैं.

अमित शाह ने शुक्रवार को पूर्णिया में भाजपा की जनभावना रैली को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार और लालू प्रसाद दोनों पर जमकर हमला बोला. अमित शाह ने कहा कि मैं यहां आया हूं तब लालू और नीतीश की जोड़ी को पेट में दर्द हो रहा है. इसके साथ अमित शाह ने कहा कि बिहार में जब से लालू नीतीश की सरकार बनी है डर का माहौल लेकिन सीमांचल के लोगों से कहना चाहूंगा कि डरना नहीं है नरेंद्र मोदी की सरकार है ना. उन्होंने कहा कि जिस दिन से शपथ लिया, उस दिन से ही बिहार की कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो गई है. नीतीश जी इसे षडयंत्र बता रहे हैं. बिहार पर जंगलराज का खतरा मंडरा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.