October 2, 2022

Bhojpuriya Mati News

सच का आईना

राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू ने किया नामांकन, PM मोदी बने प्रस्तावक, JDU समेत NDA के दिग्गज रहे मौजूद

1 min read

राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू ने किया नामांकन, PM मोदी बने प्रस्तावक, JDU समेत NDA के दिग्गज रहे मौजूद

पटना: बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए गठबंधन के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति पद के लिए आज अपना नामांकन पत्र संसद भवन में दाखिल किया. मुर्मू के समर्थन में संसद भवन में खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित साह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री मौजूद रहे. द्रौपदी मुर्मू के नामांकन में पीएम मोदी प्रस्तावक और राजनाथ सिंह अनुमोदक बने हैं. वहीं जदयू की ओर से ललन सिंह समेत पांच नेता प्रस्तावक बने हैं.

एनडीए गठबंधन से राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने 4 सेट का नामांकन भरा. पहले सेट में पीएम मोदी प्रस्तावक और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह अनुमोदक हैं. पहले सेट में 60 प्रस्तावक का नाम है और 60 अनुमोदक का. यानी इस तरह हर सेट में 120 नाम हैं. दूसरे सेट में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा प्रस्तावक हैं. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ, हिमंता बिस्वा सरमा के अलावा बीजेपी शासित सभी एनडीए के मुख्यमंत्री प्रस्तावक हैं. तीसरे सेट में हिमाचल और हरियाणा के विधायक प्रस्तावक और अनुमोदक हैं. वहीं चौथे सेट में गुजरात के विधायक प्रस्तावक और अनुमोदक हैं. बीजू जनता दल और वाईएसआर ने भी सेटों पर हस्ताक्षर किए हैं.

द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान एनडीए की एकजुटता भी नजर आई. द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान बीजेपी नेताओं के अलावे जदयू, बीजद के नेता भी शामिल हुए. बीजद प्रमुख नवीन पटनायक और आंध्र के सीएम जगन मोहन रेड्डी द्रौपदी मुर्मू के समर्थन देने का ऐलान कर चुके हैं. वहीं बिहार से जदयू, चिराग पासवान, जीतनराम मांझी और पशुपति पारस ने भी समर्थन देने की घोषणा कर दी है. दरअसल 18 जुलाई को राष्ट्रपति का चुनाव है. एनडीए ने द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है. जबकि विपक्ष की ओर से यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बनाया गया है.

बता दें कि द्रौपदी मुर्मू ओडिशा के आदिवासी समाज से आती हैं. वह झारखंड की पहली महिला राज्यपाल भी रह चुकी हैं. द्रौपदी मुर्मू ओडिशा की पहली महिला और आदिवासी नेता हैं, जिन्हें राज्यपाल नियुक्त किया गया था. इससे पहले द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाए जाने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जाना खुशी की बात है. द्रौपदी मुर्मू जी एक आदिवासी महिला हैं. एक आदिवासी महिला को देश के सर्वोच्च पद के लिए उम्मीदवार बनाया जाना अत्यंत प्रसन्नता की बात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.