January 29, 2023

Bhojpuriya Mati News

सच का आईना

राजस्थान में टीचर भर्ती के लिए हो रही है आरक्षण की मांग: 4 दिनों से हो रहे हैं हिंसक प्रदर्शन, कॉलोनी में खड़े वाहन फूंक दिए गए, 3300 के खिलाफ केस दर्ज

1 min read

राजस्थान में टीचर भर्ती के लिए हो रही है आरक्षण की मांग: 4 दिनों से हो रहे हैं हिंसक प्रदर्शन, कॉलोनी में खड़े वाहन फूंक दिए गए, 3300 के खिलाफ केस दर्ज

 

राजस्थान में शिक्षक भर्ती को लेकर उम्मीदवारों की जो मांग चल रही थी वह आज चौथे दिन के नतीजे तक पहुंच चुकी है और इस दिन का प्रदर्शन काफी हिंसक रहा है। उदयपुर के खेरवाड़ा में जो प्रदर्शनकारी है उन्होंने पहाड़ियों पर पूर्ण रूप से अपना कब्जा कर लिया है और यहां से वे सभी प्रकार की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं। इसके अलावा 3300 लोगों पर भी केस दर्ज हो चुके हैं।

 

 

तड़के सुबह 4:00 बजे फूंक दिया गया एक पिकअप वाहन: 

 

प्रदर्शनकारियों द्वारा डूंगरपुर में तड़के सुबह 4:00 बजे कॉलोनी के पास खड़े एक पिक अप वाहन में आग भी लगा दिया गया । इसके अलावा हाईवे पर जो लोग आने-जाने के लिए रास्ते का प्रयोग कर रहे हैं वहां भी पथराव किया गया, जिसके फलस्वरूप पुलिस द्वारा हवाई फायर भी किए गए। यहां 40 पुलिसकर्मियों को तैनात भी किया गया है।

 

 

उदयपुर में धारा 144 लगाया गया, खेरवाड़ा के बाद अब ऋषभदेव में भी कर दिया गया इंटरनेट बंद:

 

खेरवाड़ा के साथ-साथ डूंगरपुर में इंटरनेट सेवा तो पहले से ही बंद कर दी गई थी। शनिवार को ऋषभदेव में भी इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा उदयपुर जिले में धारा 144 को लागू कर दिया गया। लगातार हिंसा की प्रवृत्ति को देखते हुए 28 और 29 सितंबर को होने वाले पंचायत चुनाव स्थगित कर दिए गए हैं, जो उदयपुर के गोगुंदा और सराड़ा पंचायत में होने वाले थे।

 

 

प्रदर्शनकारी आखिर चाहते क्या है? जानिए पूरी बातें:

 

प्रदर्शनकारियों द्वारा यह लगातार मांग की जा रही है कि शिक्षक भर्ती के अनारक्षित 1167 पदों को एसटी वर्ग से भरने के लिए दिया जाए। इसको लेकर 17 दिनों से प्रदर्शन किए जा रहे हैं। 12 अप्रैल 2018 को तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती में सामान्य शिक्षा के 5431 पदों पर भर्ती निकाली गई थी। इसमें एसटी को 45%, सामान्य वर्ग को 50% तथा एससी को 5% का आरक्षण भी दिया गया। इस तरह सामान्य वर्ग से 1554 पद भरे गए थे और कुल 1167 पद खाली रह गए थे। अतः इन पदों पर एसडी अभ्यर्थियों की नियुक्ति की लगातार मांग की जा रही है।

 

रिपोर्टर- प्रिया बर्णवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.