September 27, 2022

Bhojpuriya Mati News

सच का आईना

35 साल…और न्याय की जीत हुई

1 min read

पूरे 35 साल बाद भरतपुर के राजा मान सिंह के दोषियों को सजा मिली है। मथुरा कोर्ट ने डीएसपी कान सिंह भाटी समेत 11 पुलिस वाले को उम्रकैद की सजा सुनाई है।

बहुचर्चित हत्याकांड का कारण बेहद मामूली था जब राजस्थान के तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवचरण माथुर की डीग में सभा आयोजित की गई और ठीक इसी दिन डीग में मान सिंह की भी जनसभा थी जो की निर्दलीय चुनाव लड़ रहे थे। बात सिर्फ़ माथुर के समर्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं के डीग के किले पर लगा मान सिंह का झंडा उतारकर कांग्रेस का झंडा लगा देने से शुरू हुआ और तब बढ गया जब माथुर के हैलीकॉप्टर को मान सिंह ने अपनी गाड़ी से ठोकर मार दिया। मामला थाने पहुँचा, अगले दिन डीएसपी कान सिंह ने मान सिंह को रुकने को कहा और ऐसा नहीं करने पर गोली चला दी, 21 फरवरी 1985 को मान सिंह की हत्या कर दी गई।

मामला कोर्ट पहुँचा और सीबीआई जाँच के लिए टीम का गठन कर दिया गया। इधर माथुर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा और 1990 में केस मथुरा कोर्ट को ट्रांसफर कर दिया गया।

मान सिंह की बेटी दीपा ने कोर्ट के फ़ैसला पर ख़ुशी जताई और कहा देर से हीं सही मगर न्याय पाकर खुश हैं। वहीं दूसरी ओर दोषियों के वकील ने कहा कि वह फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।

फैक्ट-यह भरतपुर का पहला सीबीआई केस था और तीन साल तक एक अलग मान सिंह कोर्ट का गठन किया गया हालांकि बाद में उत्तर प्रदेश भेज दिया गया

1 thought on “35 साल…और न्याय की जीत हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.